उन्नति एप्प से लोन कैसे ले (Unnati Personal Loan In Hindi)

आज के इस लेख के माध्यम से हम आपको बताएँगे Unnati App Se Loan Kaise Le. अगर आप लोन लेने के लिए एक Light Weight Application को ढूंढ रहें हैं तो Unnati App आपके लिए बेहतर साबित हो सकती है.

इस लेख में आपको जानने को मिलेगा कि क्या Unnati App से लोन लेना सुरक्षित है, Unnati App किन लोगों को लोन देती है, Unnati App से लोन लेने की Eligibility क्या है, कितना लोन आप ले सकते हैं, ब्याज दर, रीपेमेंट करने का समय, Unnati App लोन का इस्तेमाल कहाँ कर सकते हैं और कौन से दस्तावेजों की जरुरत आपको होगी.

What Is Unnati Loan App In Hindi

Unnati App एक Online Lending Platform है जो भारत के 50 से भी ज्यादा शहरों में Quick Personal लोन प्रदान करवाती है. Unnati App को Upwards Personal Loan App के द्वारा Offer किया गया है और जिन्होंने एप्लीकेशन को 5 फ़रवरी 2021 को Play Store पर Release किया.

Unnati App Upwards का एक Light Web वर्शन है जिसका आकार मात्र 6 MB के लगभग है. Unnati App भारत के ऐसे नागरिकों को 20 हजार से लेकर 3 लाख रूपये तक का लोन प्रदान करवाती है जिनकी उम्र 21 से 55 के बीच में है और उनकी मासिक आय 10 हजार या इससे अधिक है.

Unnati App से लोन कैसे मिलेगा (Unnati App Se Loan Kaise Le)

Unnati App से कुछ ही आसान Step में आपको लोन मिल जाता है –

Unnati App को डाउनलोड करके Login कर लीजिये.
लोन आवश्यकताओं और रोजगार की जानकारी भरें.
महत्वपूर्ण दस्तावेज को अपलोड करके KYC Complete कर लीजिये.
24 से 48 घंटों के अन्दर आपको लोन एप्लीकेशन की सुचना दे दी जाती है.
इसके बाद Unnati App Loan Agreement को प्रोसेस करेगी और लोन की राशि आपके Bank खाते में डाल दी जाएगी.

Unnati Apps से लोन लेने के लिए योग्यता (Eligibility Criteria)

Unnati App से निम्न आवेदकों को लोन प्रदान किया जाता है –

Unnati App से लोन लेने वाले आवेदक की उम्र 22 से 55 वर्ष के बीच होनी चाहिए.
आवेदक की नागरिकता भारतीय होनी चाहिए.
आवेदक की सैलरी 10 हजार रूपये या इससे अधिक प्रतिमाह होनी चाहिए.
सिबिल स्कोर 625 या इससे अधिक होना चाहिए.

Unnati App लोन के स्वीकृति मानदंड (Loan Approval Criteria)

Unnati App लोन Approve करने के लिए आवेदक की निम्न चीजें देखती हैं –

आय और व्यय का अनुपात
जनसांख्यिकी (आयु, वैवाहिक स्थिति, शिक्षा आदि)
व्यावसायिक अनुभव (नियोक्ता के साथ कार्यकाल, नौकरी की स्थिरता, कुल कार्य-पूर्व आदि)
आपके ऋण का उद्देश्य और इसकी प्रामाणिकता